आखिर कौन है जहरीली शराब कांड का मास्टरमाइंड?

20
drink

एक के बाद एक निलम्बन, अब बड़े अफसरो पर कार्यवाई की सुगबुगाहट तेज

कुशीनगर, 11 फरवरी (ममता तिवारी)। ग्यारह मौते, जिला आबकारी समेत पांच पुलिसकर्मी निलंबित, 41 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर, सीओ भी लाइन हाजिर, परिजनो में चीख पुकार से मातम, कमिश्नर व आईजी का दौरा, अब बड़े अफसरों की कार्रवाई की सुगबुगाहट तेज, एक के बाद एक निलम्बन। आखिर कौन है इस जहरीली शराब कांड का मास्टरमाइंड जिसके तह तक पहुंचने में प्रशासन नाकाम। मौतो के बाद ताबड़तोड़ छापेमारी, अब तक प्रशासन के सामने क्या थी मजबूरी, तमाम प्रश्न आम जनमानस मे करौंद रहा है।

बिहार : रालोसपा से नागमणि ने दिया इस्तीफा

बताते कि कुशीनगर जिले मे शराब कांड की यह घटना दूसरी बड़ी घटना है। पहली घटना पिछले वर्ष अपै्रल 2018 मे रेल हादसे मे 13 मासूमो की दर्दनाक मौतो ने पुरे देश को हिलाकर रख दिया था। इसमे भी तमाम अधिकारियो को भी निलम्बित कर दिया गया था। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटनास्थल का जायजा लिया था। इस घटना को लोग किसी तरह भुलाते कि तरयासुजान थाना क्षेत्र मे जहरीली शराब ने ताजा कर दिया और 11 लोगो को अपने आगोश मे लिया। इस जनपद की दूसरी सबसे बड़ी दर्दनाक घटना है।

जहां ग्यारह मौतो ने जहां शासन व प्रशासन को हिलाकर रख दिया है वही परिजनो के चीख पुकार से हर कोई रोने को मजबूर हो जा रहा है। अफसरो का गाज लगातार सम्बंधित अधिकारियों एवं कर्मचारियो पर गिर रहा है। सुत्रो से मिली जानकारी के मुताबिक अब बड़े अफसर भी इसके जद मे आ सकते है सुगबुगाहट तेज हो गयी है कब, किस वक्त इन बड़े अफसरो पर गाज गिर सकती है। इसका मंथन उपर चल रहा है। कौन है इस जहरीली शराब कांड का मास्टरमाइंड ? प्रशासन यहां तक पहुंचने मे कोई कोर कसर नही छोड़ रहा है फिर भी उसकी गिरफ्तारी से पुलिस प्रशासन क्यों कतरा रही है। जो यह बात लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here