वाराणसी में मुख्यमंत्री ने कमल संदेश यात्रा को दिखाई हरी झंडी,मिशन 2019 का किया

68
yogi

वाराणसी, 17 नवम्बर (वेबवार्ता)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार दोपहर संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय से कमल संदेश बाइक रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री के हरी झंडी दिखाते ही कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम वन्देमातरम का गगनभेदी नारा लगाया और रैली में शामिल हुए।

प्रदेश के सभी 80 लोकसभा क्षेत्रों में भाजपा की ओर से आयोजित एक साथ एक समय पर आयोजित कमल संदेश बाइक रैली के क्रम में यहां कमल संदेश रैली जगतगंज,लहुराबीर, मलदहिया, सिगरा, भारत माता मंदिर,चंदुआ सट्टी, इंग्लिशिया लाइन, तेलियाबाग, अंधरापुल, नदेसर, वरुणा पुल, कचहरी होते हुए जिला मुख्यालय तक पहुंच कर समाप्त हुई।

इसके पूर्व मुख्यमंत्री ने सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय खेल मैदान में रैली में शामिल होने आये हजारों कार्यकर्ताओं को सम्बोधित किया। मुख्यमंत्री ने मिशन 2019 का बिगुल फूंक कहा कि 2019 भारत ही नहीं पूरे दुनिया के लिए महत्वपूर्ण हैं। केन्द्र सरकार ने अपने विकास कार्यों से देश और दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाई है अपने को स्थापित किया है। यह संदेश यात्रा 2019 के लोकसभा चुनाव में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगी।

कांग्रेस में लोकतंत्र है तो गांधी परिवार के बाहर से अध्यक्ष बनाए : मोदी

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जमकर तारीफ के बाद कहा कि सौभाग्य है कि भारत की छवि देश और दुनिया के सामने सकारात्मक रूप से पहुंचाने में महापुरुष के माध्यम से मदद मिली है। देश की संसद में उत्तर प्रदेश और काशी के प्रतितिधि के रूप में प्रधानमंत्री से हम सबको गौरव की अनुभूति होनी चाहिए। कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ से उत्साहित मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के पांच राज्यों में चुनाव होने वाला है।
वाराणसी की कमल संदेश रैली का संदेश उन राज्यों में जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कायकर्ताओं से रैली में हेलमेट पहन शालीनता से शामिल होने की अपील की और उन्हें पार्टी के अनुशासन और मूल्य बोध का पाठ भी पढ़ाया। मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार और राज्य सरकार के जन कल्याण कारी योजनाओं को विस्तार से बता कर कहा कि कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचा देश के लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत करे।
मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में साढ़े तीन करोड़ परिवारों तक राशन कार्ड पहुंचाया गया है। दिव्यांगों महिलाओं के लिए तमाम जन कल्याण कारी योजनाएं चल रही हैं। केन्द्र और प्रदेश की सरकार ने विकास कार्यो में मिल का पत्थर स्थापित किया है। कार्यक्रम स्थल पर आने के पूर्व मुख्यमंत्री हेलिकाप्टर से पुलिस लाइन मैदान में उतरे।
यहां प्रशासनिक अफसरों के साथ भाजपा नेताओं विधायकों ने गर्मजोशी से स्वागत किया। इसके बाद सशस़्त्र पुलिस की टुकड़ी ने मुख्यमंत्री को गार्ड आॅफ आॅनर दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री कड़ी सुरक्षा के बीच वाहनों के काफिले में सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय मैदान में पहुंचे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here