बदले की भावना से हुई छापेमारी : हुड्डा

21
bhupender-hooda

रोहतक, 25 जनवरी (वेबवार्ता)। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने अपने आवास और अन्य परिसरों पर सीबीआई छापों को “राजनीतिक बदले की भावना” से की गई कार्रवाई बताया और कहा कि यह उनकी आवाज को दबाने के लिए किया गया। सीबीआई की टीमों ने कांग्रेस नेता के मुख्यमंत्री रहने के दौरान भूमि आवंटन में हुई कथित अनियमितताओं के संबंध में यहां उनके घर और दिल्ली एवं राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में कई अन्य परिसरों पर छापेमारी की।

केंद्रीय जांच ब्यूरों के अधिकारियों के उनके घर से जाने के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “यह कुछ नहीं बल्कि राजनीतिक बदला है। वे मेरी आवाज दबाना चाहते हैं जिसमें उन्हें सफलता नहीं मिलेगी।” उन्होंने कहा कि उन्होंने अधिकारियों के साथ “पूरा सहयोग” किया। साथ ही उन्होंने बताया कि “उन्हें कुछ नहीं मिला।” उन्होंने बताया, “वे मेरे भतीजे द्वारा काफी समय पहले भरे गए आयकर रिटर्न की प्रति ले गए।” हुड्डा ने कहा “मेरे खिलाफ कुछ नहीं मिला।” उन्होंने कहा, “मैं स्वतंत्रता सेनानियों के परिवार से हूं, अंग्रेज भी हमें दबा नहीं पाए थे।” उन्होंने कहा कि वह अपनी लड़ाई खुद लड़ेंगे।

हुड्डा ने कहा, “मैं कानूनी प्रक्रिया जानता हूं और न्यायिक तंत्र में मेरा पूरा भरोसा है।” हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री बिना तथ्यों के मेरे खिलाफ बयान दे रहे हैं।” हुड्डा शुक्रवार को रणदीप सिंह सुरजेवाला के पक्ष में माहौल बनाने के लिए शुक्रवार को जींद में कांग्रेस की एक रैली को संबोधित करने वाले थे। रणदीप पार्टी के वरिष्ठ नेता है जो वहां से विधानसभा उपचुनाव लड़ रहे हैं। हुड्डा ने कहा, “अब मैं रैली में शामिल नहीं हो पाऊंगा।” साथ ही उन्होंने भरोसा जताया कि जींद में उनकी पार्टी जीत दर्ज करेगी।

इंडियन नेशनल लोक दल के विधायक हरी चंद मिढ्ढा के निधन से सीट के रिक्त होने के कारण जींद में उपचुनाव हो रहे हैं। जींद में सोमवार को वोट पड़ेंगे। इससे पहले कांग्रेस विधायक एवं पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा ने आरोप लगाया था कि ये छापेमारी हुड्डा को चुनाव बैठक में शामिल होने से रोकने के लिए की गई। उन्होंने आरोप लगाया कि ये छापेमारी “उपचुनाव को प्रभावित करने की बुरी मंशा”से की गई। हुड्डा के बेटे एवं रोहतक से सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी छापेमारी के दौरान घर में मौजूद थे। उन्होंने कहा, “मौजूदा भाजपा सरकार पिछले पांच सालों से राजनीतिक बदले के साथ काम कर रही है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here