इस्राइल ने ईरान पर ‘गुप्त परमाणु भंडार’ रखने का लगाया आरोप

29
credit google
credit google

संयुक्त राष्ट्र, 28 सितंबर (वेबवार्ता)। इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान पर विश्व शक्तियों के साथ 2015 के समझौते के बावजूद अपनी राजधानी के समीप ‘‘गुप्त परमाणु भंडार’’ रखने का आरोप लगाया। विश्व के शक्तिशाली देशों के साथ हुए समझौते का मकसद ईरान को परमाणु हथियार हासिल करने से रोकना था।

नेतन्याहू ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में विश्व नेताओं के समक्ष तेहरान के समीप एक इलाके का मानचित्र दिखाते हुए गुरुवार को कहा कि ईरानी अधिकारियों ने एक गोदाम में कई टन परमाणु उपकरण तथा सामग्री रखी हुई है। ईरान की सरकारी मीडिया ने इस घोषणा को ‘‘हास्यास्पद’’ तथा एक ‘‘भ्रम’’ बताया।

इस्राइल ने चार महीने पहले घोषणा की थी कि उसकी खुफिया एजेंसी ने तेहरान के समीप शूरबाद में ईरान के परमाणु दस्तावेज हासिल किये हैं। इसके बाद नेतन्याहू ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय के इस बड़े मंच से इसका खुलासा किया। इस्राइल ने कहा कि इस जखीरे से साबित हो गया कि ईरानी नेताओं ने परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर करने से पहले अपना हथियार कार्यक्रम छुपा लिया था।

नेतन्याहू ने कहा कि नया स्थान शूरबाद से कुछ ही दूरी पर स्थित है। नेतन्याहू के बयान को ‘‘हास्यास्पद’’ बताते हुए ईरान के सरकारी टीवी ने कहा कि देश परमाणु अप्रसार के लिए प्रतिबद्ध है तथा संयुक्त राष्ट्र की परमाणु हथियारों पर नजर रखने वाली संस्था ईरान के परमाणु कार्यक्रम की निगरानी कर रही है।

.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here